सोलर सिस्टम कितने साल तक बिजली बनाता है? मेंटेनेंस कॉस्ट जानें

Photo of author

Written byRohit Kumar

verified_75

Updated on

solar-panels-complete-cost-warranty-performance-and-servicing

एक सोलर पैनल कितना चलेगा

विश्वभर में बिजली की मांग में वृद्धि होने के कारण बिजली का बिल भी बढ़ा है। सोलर पैनलों को यूज करके ये महंगे बिल कम हो सकते है। सोलर पैनलों से सनलाइट को बिजली में कन्वर्ट किया जाता है जिससे नेचर को भी हानि नहीं होती है। सोलर एनर्जी लोगो की जीवाश्म ईंधन से भी डिपेंडेंसी को कम कर देता है। आज के ले में आपको सोलर पैनलों के फायदे और इसमें पैसे बचाकर इंस्टाल करने की डीटेल्स देंगे।

सोलर पैनल कितने समय चल पाएंगे

solar panel life

सोलर पैनलों को एक अच्छा निवेश मानते है चूंकि ये एक बार लगाने के बाद काफी सालो तक पावर दे पाता है। शुरू में सोलर पैनल पर हुए निवेश को सिर्फ 4 से 5 सालो के बिजली बिल को कम करके वसूल कर लेते है। इस टाइम के बाद ये एकदम फ्री बिजली देता है। इन पैनलों की कैपेसिटी हर साल 0.5 फीसदी भी कम होती है।

अधिकांश कंपनी के सोलर पैनलों से 25 वर्षो के बाद 80 फीसदी कैपेसिटी में बिजली मिलती है। इनको अधिक टाइम तक यूज करने में धूल और गंदगी को रेगुलर साफ करना चाहिए। चूंकि इससे पैनल की कैपेसिटी एवं एफिशिएंसी ठीक रहती है।

सोलर पैनलों की सर्विसिंग कॉस्ट

सोलर पैनलों से अच्छे प्रदर्शन के लिए रेगुलर देखभाल की जरूरत है। इसके सर्विसिंग की कीमत काफी बातो पर डिपेंड करती है, इसमें सिस्टम का प्रकार-आकर, स्थान एवं सर्विस देने वाला आदि आते है। पैनलों की सफाई, इन्वर्टर एवं बैटरी की टेस्टिंग एवं कनेक्शन की जांच आदि होते है। ऐसे ये अधिकतम इफ्सिएंसी देने लायक होगा। सोलर पैनल कार्बन का उत्सर्जन भी कम करते है।

Also Readमात्र ₹1 के शेयर ने दिखायी तूफानी तेजी 2,335.63% चढ़ गया शेयर भाव! निवेशक हुए मालामाल

मात्र ₹1 के शेयर ने दिखायी तूफानी तेजी 2,335.63% चढ़ गया शेयर भाव! निवेशक हुए मालामाल

यह भी पढ़े:- 1.5kW सोलर सिस्टम लगाने पर कितनी सब्सिडी मिलेगी? यहाँ जानें

सोलर पैनल इंस्टाल करने में सब्सिडी

Subsidy for installing solar panels

सरकार की तरफ से लोगो को सोलर पैनल इंस्टाल करने में सब्सिडी भी मिल रही है। इस काम में केंद्र एवं राज्यो की सरकार अपनी कोशिश जारी रखे है। वैसे सोलर पैनलों पर सब्सिडी पाने में ऑन ग्रिड सोलर सिस्टम लेना जरूरी है जिसमे बैटरी नही लगती है। यह सिस्टम पैनलों से पैदा हो रही बिजली को बिजली की ग्रिड में शेयर करता है।

ऐसे घर के बिजली के सामान ग्रिड इलेक्ट्रिसिटी पर काम करेंगे और ग्रिड में जा रही बिजली को नेट मीटरिंग से कैलकुलेट करते है। सब्सिडी लेने के बाद सोलर सिस्टम की टोटल कीमत काफी कम हो जाती है। बची रह गई बिजली ग्रिड से DISCOM को बेचकर एक्स्ट्रा इनकम कर सकते है। बीते दिनों ही सरकार ने पीएम सूर्योदय स्कीम की शुरुआत की अहि जिससे सोलर पैनलों को लगाने में सब्सिडी मिलेगी।

  • 1kW सिस्टम में 30 हजार रुपए की सब्सिडी
  • 2kW सिस्टम में 60 हजार रुपए की सब्सिडी
  • 3kW से 10 किलोवाट तक के सिस्टम में 78 हजार रुपए की सब्सिडी।

Also Read12kw-solar-system-complete-installation-cost-analysis

12 kW सोलर सिस्टम को इंस्टाल करने के टोटल खर्चे को जाने

You might also like

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें