पुराने वाले AC को नए सोलर AC में बदले, जाने आकर्षक कीमत

Photo of author

Written by Rohit Kumar

verified_75

Updated on

convert-you-old-ac-into-a-solar-ac-with-these-steps

जलवायु में बदलाव की अधिकता से नवीनतम एवं सतत ऊर्जा स्रोतों की तरफ विश्वभर की नजर जा रही है। इस प्रकार के स्त्रोतों में सोलर ऊर्जा की खास भूमिका है। ये विश्व की बढ़ती जा रही बिजली की डिमांड को भी पूर्ण करने की क्षमता रखता है। इस लेख में आपको सोलर पैनल से सोलर AC को चलाने की जानकारी दे रहे है। इस प्रकार से आप अपने नार्मल AC को सोलर एसी में बदल सकेंगे।

सोलर AC को बिजली अथवा इन्वर्टर से चलाया जाता है। इनमे सोलर पैनल से बन रही बिजली इस्तेमाल होता है और वो ग्रिड की बिजली के बगैर ही अपना कार्य कर पाते है। हालांकि छत पर भी समुचित स्थान होने पर सोलर पैनल इंस्टाल हो पाएंगे

पुराने AC को सोलर AC में बदलें

SolarAC
Earthnewj से अब व्हाट्सप्प पर जुड़ें, क्लिक करें

आपने एक नए सोलर पैनल, इन्वर्टर एवं सोलर के लिए उपर्युक्त कंपेटिबल AC को लगाना है। इस प्रकार का सेटअप आपके पुराने तरीके के AC को एक सोलर AC बना देगा। इसके बाद आपके बिजली के बिल में भी कमी आएगी। किन्ही दशाओं में आपको अपने वर्तमान AC को सोलर पावर पर कार्यान्वित करने में सोलर पैनल एवं इन्वर्टर से जोड़ना होगा। किंतु इसकी कुछ लिमिट भी है। आपने यह देखना है कि इस समय का AC लग रहे इन्वर्टर से समायोजित होने योग्य है।

वैसे अधिकंश पुराने मॉडल के AC सोलर एनर्जी से आने वाली बिजली पर चलने के योग्य नहीं होते है। सोलर पैनलों से AC के कार्यान्वयन के लिए प्रचुर मात्रा में पावर नही बनती है। आपको अपने पुराने मॉडल के AC को एकदम से सोलर पैनल एवं इन्वर्टर के साथ बदलना होगा और आपने एक पूर्णतया सोलर के लायक AC यूनिट को लगना होगा। यह डायरेक्ट ही सोलर पैनल से पैदा होने वाली बिजली को प्रयोग कर पाएगा। ये एक अधिक सतत एवं फायदेमंद ऑप्शन रहेगा किंतु इसमें थोड़ा खर्चा ज्यादा होगा।

सोलर AC में आने के फायदे

सोलर AC में परंपरागत AC के मुकाबले बिजली की खपत कम ही होती है और उपभोक्ता अपने बिजली के बिल में कमी कर पाता है। इससे ग्राहक का पैसों का बोझ भी कम हो जाता है। सोलर AC में नवीनीकरण ऊर्जा का इस्तेमाल होने की वजह से ये इको फ्रेंडली भी है एवं प्रदूषण भी कम फैलाता है। इससे लोगो के हरित ऊर्जा के इस्तेमाल करके प्रकृति के संरक्षण में हिस्सेदारी का मौका देता है।

Also ReadPM Surya Ghar Solar Yojana: बिजली के बिल करें जीरो? सब्सिडी स्कीम की एलिजिबिलिटी ऐसे करें चेक

PM Surya Ghar Solar Yojana: बिजली के बिल करें जीरो? सब्सिडी स्कीम की एलिजिबिलिटी ऐसे करें चेक

सोलर AC में काम करने वाले पार्ट्स भी कम रहते है जोकि रख रखाव की जरूरत इमें कमी लाते है। सोलर AC के मामले में सोलर पैनल इंस्टाल करने वाले लोग सब्सिडी के भी योग्य होंगे जोकि इंस्टाल करने के खर्चे को भी कम करता है। ऐसे परंपरागत AC के मुकाबले सोलर AC ज्यादा खर्चे में इंस्टाल होता है।

यह भी पढ़े:- हरियाणा सरकार किसानों को नए सोलर ट्यूबवेल पर 75% तक सब्सिडी देगी

सोलर AC बदलाव की हानियां

Disadvantages of converting solar ac to solar ac

सोलर AC एवं इसको लगाने का खर्च रेगुलर AC के मुकाबले कुछ ज्यादा रह सकता है तो शुरू का निवेश ज्यादा पैसे का हो सकता है। अगर आपने सूरज की रोशनी के बैगर AC से काम लेना हो तो आपको बैटरी से चलाने की जरूरत पड़ेगी। इस एक्स्ट्रा खर्चे को टोटल खर्चे में जोड़ सकते है। सोलर पैनलों को लगाने में भी उपर्युक्त जगह की आवश्यकता रहती है जोकि सभी के पास हो ऐसा नहीं है। तो आपको इस ऑप्शन पर बढ़ने से पूर्व इन बात पर भी सोचना होगा।

Also Readexide-4kw-solar-panel-installation-guide

Exide 4kW सोलर पैनल की कीमत और कैपेसिटी की जानकारी देखे

You might also like

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें