सोलर पैनल कैसे काम करते हैं और यह एक महीने में कितनी बचत करेगा, जानें

Photo of author

Written by Rohit Kumar

verified_75

Published on

सोलर पैनल कैसे काम करते हैं और यह एक महीने में कितनी बचत करेगा, जानें
सोलर पैनल

आज के समय में बिजली बिल को लेकर हर कोई परेशान है और सरकार इन बिलों को कम करने के लिए सोलर सिस्टम की स्थापना कर रही है, इतना ही नहीं, सरकार लोगों को अपने छत पर सोलर पैनल लगाने के लिए सब्सिडी उपलब्ध करवा रही है. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि सोलर पैनल कैसे काम करता है? इस पैनल के द्वारा बिजली उत्पन्न कैसे होती है और एक महीने में आप कितनी बचत कर सकते है।

सोलर पैनल कैसे काम करता है?

सोलर पैनल, सूर्य के प्रकाश को सीधे बिजली में बदलने का एक उपकरण है। यह फोटोवोल्टिक (PV) कोशिकाओं से बना होता है, जो अर्ध चालक पदार्थों, जैसे सिलिकॉन से बनी होती हैं। जब सूर्य का प्रकाश PV कोशिकाओं पर पड़ता है, तो यह इलेक्ट्रॉनों को उत्तेजित करता है, जिससे विद्युत धारा उत्पन्न होती है।

Earthnewj से अब व्हाट्सप्प पर जुड़ें, क्लिक करें

आसान शब्दों में, जब सूर्य का प्रकाश PV कोशिकाओं पर पड़ता है, तो फोटॉन नामक ऊर्जा के छोटे पैकेट कोशिकाओं द्वारा अवशोषित किए जाते हैं। फोटॉन की ऊर्जा इलेक्ट्रॉनों को कोशिकाओं के परमाणुओं से मुक्त करती है, जिससे वे एक विद्युत प्रवाह उत्पन्न करते हैं। यह प्रवाह सीधी विद्युत (DC) बिजली बनती है. इसके बाद सोलर पैनल DC बिजली का उत्पादन करते हैं, जिसे घरेलू उपकरणों द्वारा उपयोग किए जाने वाले प्रत्यावर्ती विद्युत (AC) में बदलने के लिए एक इन्वर्टर की आवश्यकता होती है। जिसके बाद उस बिजली का उपयोग घरों, व्यवसायों में किया जाता है।

एक महीने में कितनी बचत कर सकते है ?

हर व्यक्ति की आवश्यकता अलग-अलग होती है. यदि आप अपने घर में सोलर सिस्टम लगना चाहते है तो बचत की राशि अलग हो सकती है, ये कई कारणों पर निर्भर करती है जैसे – आपके क्षेत्र में यूनिट की कीमत, बिजली की आवश्यकता, खपत, बैटरी, बिजली का उत्पादन आदि.

Also Readinstall-affordable-1kw-solar-system-at-just-13000

सिर्फ 13 हजार में सबसे अफोर्डेबल 1 किलोवाट के सोलर सिस्टम को लगवाए

मान लीजिए, अपने 4 साल पहले 4 किलोवाट क्षमता का सोलर पैनल लगाया है, निवेश राशि की भरपाई करने में 3-4 साल का टाइम लग सकता है. तो 4 साल के बाद प्रतिदिन लगभग 150 रूपये बिजली बचा सकते हैं। 4 किलोवाट पैनल से आप हर दिन 20 यूनिट बिजली उत्पन्न हो सकती है. यदि आप ग्रिड से बिजली खरीदते हैं और सोलर पैनल द्वारा उत्पादित बिजली का उपयोग करते हैं, तो आप प्रति यूनिट 7 रुपये बचा सकते हैं (आपके शहर में बिजली की दर के अनुसार)।

उदाहरण: मासिक बचत: 20 यूनिट/दिन * 7 रुपये/यूनिट * 30 दिन = 4200 रुपये/माह बचत होगी.

इसके अलावा यदि आप 5 किलोवाट क्षमता का सोलर पैनल सिस्टम स्थापित करते हैं, तो आप प्रति माह 750 यूनिट बिजली का उत्पादन कर सकते हैं, जिससे आप ₹5250 की बचत कर सकते हैं। सालाना आधार पर, यह बचत ₹63,000 तक हो सकती है।

Also Readbuying-solar-panel-is-now-affordable-with-new-emi-plans

अब EMI पर खरीदें सोलर पैनल, 78,000 रुपए मिलेगी सब्सिडी

You might also like

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें